BREAKING NEWSअनतर्राष्ट्र्य खबरें

चीन ने पाकिस्तान को लोन देने से किया मना जाने इसका मुख्य कारण क्या है?

चीन ने पाकिस्तान को लोन देने से किया मना जाने इसका मुख्य कारण क्या है?

 

सऊदी अरब से फटकार खाने के बाद भीख के लिए चीन की चौखट पर गए पाकिस्‍तान को बड़ा झटका लगा है। मीडिया रिपोटर्स के अनुसार, चीन ने भी पाकिस्‍तान को लोन देने से मना कर दिया है। चीनी अधिकारियों ने पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से स्पष्ट रूप से कहा कि वे पाकिस्तान को दिए गए किसी भी ऋण के बदले गिलगित-बाल्टिस्तान का हिस्सा चाहते हैं।

पाकिस्‍तान को चीन ने दिया झटका

पाकिस्तान दाने दाने को मोहताज है और वहां की अवाम महंगाई की मार से त्रस्त है। पाकिस्‍तान मदद के लिए चीन की तरफ टकटकी लगाए है, लेकिन ड्रैगन ने उसे अपना असली रंग दिखा दिया है। यह चीन की पुरानी चाल है कि वह दुनिया के देशों को पहले सस्‍ते कर्ज के जाल में फंसाता है और फिर उसकी जमीन पर कब्‍जा करता है। ऐसा ही कुछ उसे पाकिस्‍तान के साथ भी किया है। पाकिस्‍तान ने हाल ही में सऊदी का कर्ज उतारने के लिए चीन से एक बिलियन डॉलर का कर्ज लिया था, लेकिन अब सऊदी ने अपने बाकी बचे 2 बिलियन डॉलर भी मांग लिए हैं।

मांगा गिलगित-बाल्टिस्तान

सऊदी की बची रकम को लौटाने के लिए पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी चीन जा पहुंचे, लेकिन ऐन वक्‍त पर ड्रैगन ने ऐसी चाल चली की पाकिस्‍तान के होश उड़ गए। बताया जा रहा है कि चीन ने पाकिस्‍तान को कर्ज देने से मना कर दिया। चीन ने कहा कि वह लगातार पाकिस्‍तान को इस तरह से कर्ज नहीं दे सकता, क्‍योंकि उससे पैसे वापस आने की कोई उम्‍मीद नहीं दिखती है। बताया जा रहा है कि चीन ने शर्त रखी कि वह पाकिस्‍तान को एक ही शर्त पर कर्ज दे सकता है, अगर गिलगित-बाल्टिस्तान का हिस्सा उसको दे दे।

चीन अपनी सीपेक योजना के तरह करीब 60 अरब डॉलर का निवेश करके पाकिस्तान से चीन तक सड़क और रेलवे लिंक बना रहा है। इसके जरिए पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट से चीन के शिनजियांग प्रांत को जोड़ा जाएगा।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close