अनतर्राष्ट्र्य खबरें
Trending

दिल्ली के इस अस्पताल में गायब हो रहा मृतको का सामान।

मौत के बाद उनका मोबाइल या कीमती सामान गायब हो रहा है।

गायब हो रहा मृतकों का सामान,।

  • खास बातें

  • LNJP अस्पताल से गायब हो रहा सामान

  • मृतकों के परिजनों ने प्रबंधन से की शिकायत

  • मेडिकल डायरेक्टर ने स्टाफ को लिखी चिट्ठी

दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल (LNJP Hospital) में मृतकों के सामान गायब होने की शिकायतें आ रही हैं. मौत के बाद उनका मोबाइल या कीमती सामान गायब हो रहा है।

दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल (LNJP Hospital) में मृतकों के सामान गायब होने की शिकायतें आ रही हैं. मौत के बाद उनका मोबाइल या कीमती सामान गायब हो रहा है.

बढ़ते मामलों के बाद अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉक्टर पीएन पांडे ने स्टाफ को 8 जून को एक चिट्ठी लिखी. पत्र में कहा गया है कि हर फ्लोर का नर्सिंग इंचार्ज मरीज की मौत के बाद उसका सामान सैनिटाइज कर सिक्योरिटी इंचार्ज को सौपेंगा. इस आदेश को गंभीरता से लिया जाए.

बता दें कि दिल्ली में कोरोनावायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को लेकर राज्य सरकार फिक्रमंद है. राजधानी में संक्रमितों की संख्या 36,000 पार हो गई है.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि दिल्ली में कोरोना के 36,824 केस हैं. 2,137 नए मामले सामने आए हैं. अब तक 1,214 लोगों की की मौत हुई है. राज्य में 22,212 एक्टिव केस हैं. लगभग 5700 लोग हॉस्पिटल में हैं, जिनमें से 345 आईसीयू में हैं.

इस बीच कोरोना मामलों और लॉकडाउन को लेकर राजनीति भी खूब हो रही है.

बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने एक ट्वीट कर दिल्ली सरकार पर हमला बोला. उन्होंने ट्वीट किया, ‘मेरी अरविंद केजरीवाल जी से हाथ जोड़ कर प्रार्थना है कि आप जीएसटी, टैक्स की चिंता छोड़ दें और तुरंत दिल्ली में लॉकडाउन की घोषणा करें.

क्योंकि आप सक्षम नहीं हैं स्थिति को सम्भालने के लिए. दिल्ली के सभी सांसद आप को हर सम्भव मदद देने के लिए तैयार हैं.’
गौरतलब है कि भारत में इस वायरस से संक्रमितों की संख्या 3,08,993 हो गई है. पिछले 24 घंटों में कोरोना के 11,458 नए मामले सामने आए हैं और 386 लोगों की मौत हुई है. देश में पहली बार 24 घंटों में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना के मामले सामने आए हैं और मौतें हुई हैं. अभी तक 8,884 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 1,54,330 मरीज इस बीमारी को मात देने में सफल भी हुए हैं.

रिकवरी रेट में मामूली बढ़ोतरी देखने को मिली है. यह 49.94 प्रतिशत पर पहुंच गया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close