भारत

प्रधानमंत्री ने लॉन्च किया 1 लाख करोड़ का एग्री इंफ्रा फंड, 8.5 करोड़ किसानों के खाते में आए 2-2 हजार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड के तहत एक लाख करोड़ रुपये की फाइनेंसिंग फैसिलिटी लांच की है.

PM मोदी ने लांच किया 1 लाख करोड़ का एग्री इंफ्रा फंड, 8.5 करोड़ किसानों के खाते में आए 2-2 हजार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड के तहत एक लाख करोड़ रुपये की फाइनेंसिंग फैसिलिटी लांच की है.

सरकार ने जुलाई में कृषि बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए रियायती ऋण का विस्तार करने के लिए 1 लाख करोड़ के फंड के साथ कृषि-इंफ्रा फंड बनाने को मंजूरी दी थी.

8.5 करोड़ किसानों को मिले 17 हजार करोड़ रुपये
प्रधानमंत्री ने   प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (Prime Minister Kisan Samman Nidhi) के तहत 8.5 करोड़ किसानों को 17,000 करोड़ रुपये की छठी किस्त भी जारी की है. देशभर के लाखों किसान, सहकारी समितियां और नागरिक इस कार्यक्रम में शामिल हुए. केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी वीडियो लिंक के जरिए इस मौके पर मौजूद रहे.

रोजगार के बनेंगे अवसर

पीएम मोदी ने कहा कि एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड से गांवों-गांवों में बेहतर भंडारण, आधुनिक कोल्ड स्टोरेज की चेन तैयार करने में मदद मिलेगी और गांव में रोजगार के अनेक अवसर तैयार होंगे. इसके साथ-साथ उन्होंने कहा कि 8.5 करोड़ किसान परिवारों के खाते में, पीएम किसान सम्मान निधि के रूप में 17,000 करोड़ रुपए ट्रांसफर करते हुए भी मुझे बहुत संतोष हो रहा है. उन्होंने कहा कि बीते 1.5 साल में योजना के माध्यम से 75 हजार करोड़ रुपए सीधे किसानों के बैंक खाते में जमा हो चुके हैं.

क्या है एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड
एग्री-इंफ्रा फंड कोरोना वायरस संकट के प्रभाव को कम करने के लिए सरकार द्वारा जारी 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का एक हिस्सा है. एग्री-इंफ्रा फंड की अवधि साल 2029 तक यानी 10 साल तक के लिए है. इसका लक्ष्य ब्याज सबवेंशन और वित्तीय सहायता के जरिए पोस्ट-हार्वेस्ट मैनेजमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर और सामुदायिक खेती के लिए व्यवहार्य परियोजनाओं में निवेश के लिए मध्यम-से-लंबी अवधि के ऋण वित्तपोषण की सुविधा प्रदान करना है. इस कदम का लक्ष्य ग्रामीण क्षेत्र में निजी निवेश को बढ़ाना और अधिक रोजगार पैदा करना है.

इस साल 10,000 करोड़ का लोन
एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड में एक लाख करोड़ रुपये बैंकों और वित्तीय संस्थाओं द्वारा प्राइमरी एग्री क्रेडिट सोसाइटीज, फार्मर ग्रुप्स, फार्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशंस, एग्री-उद्यमियों, स्टार्टअप्स और एग्री-टेक से जुड़े लोगों को लोन के रूप में उपलब्ध करवाए जाएंगे. लोन 4 साल में वितरित किये जाएंगे. मौजूदा वित्त वर्ष में 10,000 करोड़ और अगले 3 वित्त वर्षों के दौरान प्रत्येक में 30,000 करोड़ रुपये का लोन वितरित होगा.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close