टॉप न्यूज़

भारतीय सेना ने जवानों को दिए निर्देश,कहा- फोन से फेसबुक,टिकटोक समेत 89 एप्स को हमेशा के लिए डिलीट करे

सेना को सूचनाएं लीक होने की आशंका, जवानों से कहा- फेसबुक, इंस्टाग्राम और टिकटॉक जैसे ऐप्स डिलीट करें

  • सेना के जवानों को अपने स्मार्टफोन से हटाने होंगे 89 मोबाइल ऐप
  • मोबाइल ऐप्स को डिलीट करने के लिए 15 जुलाई तक का है वक्त
  • सोशल मीडिया ऐप्स के अलावा डेटिंग ऐप्स और न्यूज ऐप्स भी डिलीट करने के निर्देश दिए

नई दिल्ली: सुरक्षा के लिहाज से भारतीय सेना ने बड़ा कदम उठाया है. भारतीय सेना ने अपने जवानों से कहा है कि वे Facebook, Tik Tok, ट्रूकॉलर और इंस्टाग्राम जैसे एप्स अपने स्मार्टफोन से डिलीट कर दें. भारतीय सेना ने 89 ऐसे एप्स की सूची जारी की है जो सेना के जवानों को अपने स्मार्टफोन से डिलीट करने होंगे. यह फैसला इसलिए लिया गया है ताकि कोई भी सेना की जानकारी लीक न हो सके.

 

सेना ने जिन एप्स को डिलीट करने को कहा है उनमें सिर्फ Facebook, Tik Tok ही नहीं बल्कि Likee, यूसी ब्राउजर और PUBG जैसे पॉपुलर एप्स भी शामिल हैं. इसके अलावा उन्हें डेटिंग एप जैसे टिंडर आदि भी डिलीट करने को कहा गया है.

 

इन ऐप्स पर सेना ने बैन लगाया

मैसेजिंग प्लेटफॉर्म: फेसबुक, बाइडू, इंस्टाग्राम, एलो, स्नैपचैट, वीचैट, क्यू क्यू, किक, आऊ वो, निम्बूज, हेलो, क्यू जोन, शेयर चैट, वाइबर, लाइन, आईएमओ, स्नो, टू-टॉक, हाइक

वीडियो होस्टिंग: टिक-टॉक, लाइकी, समोसा, क्वाली, कंटेंट शेयरिंग, शेयर इट, जेंडर, जाप्या

वेब ब्राउजर: यूसी ब्राउजर, यूसी ब्राउजर मिनी

वीडियो एंड लाइव स्ट्रीमिंग: लाइव मी, बिगो लाइव, जूम, फास्ट फिल्म्स, वी मेट, अप लाइव, विगो वीडियो

यूटिलिटी ऐप्स: कैम स्कैनर, ब्यूटी प्लस, ट्रू कॉलर

गेमिंग ऐप्स: पबजी, नोनो लाइव, क्लैश ऑफ किंग्स, ऑल टेंसेंट गेमिंग एप्स, मोबाइल लीजेंड्स

ई कॉमर्स: कल्ब फैक्ट्री, अली एक्सप्रेस, चाइना ब्रांड्स, गियर बेस्ट, बैंग गुड, मिनिन द बॉक्स, टाइनी डील, डीएचएच गेट, लाइटेन द बॉक्स, डीएक्स, एरिक डेस्क, जॉफुल, टीबीड्रेस, मोडिलिटी, रोजगल, शीन, रोमवी

डेटिंग ऐप्स: टिंडर, ट्रूअली मैडली, हैप्पन, आइल, कॉफी मीट्स बैजल, वू, ओके क्यूपिड, हिंग, एजार, बम्बली, टैनटैन, एलीट सिंगल्स, टैजेड, काउच सर्फिंग

एंटी वायरस: 360 सिक्युरिटी

न्यूज, ऑनलाइन बुक रीडिंग ऐप्सन्यूज डॉग, डेली हंट, प्रतिलिपि, वोकल

लाइफस्टाइल ऐप: पॉपएक्सो

हेल्थ ऐप: हील ऑफ वाई

म्यूजिक ऐप्स: हंगामा, सांग्स.पीके

ब्लॉगिंग/माइक्रो ब्लॉगिंग: येल्प, तुम्बिर, रेडिट, फ्रेंड्स फीड, प्राईवेट ब्लॉग्स

 

बता दें कि हाल में ही चीन के साथ सीमा पर जारी गतिरोध के बीच मोदी सरकार ने भी बड़ा फैसला किया था. केंद्र सरकार ने 59 चीनी एप्स पर प्रतिबंध लगा दी थी. जिन एप्स पर प्रतिबंध लगाया गया है उनमें टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, शेयर इट आदि एप्स हैं. इनके अलावा हैलो, लाइक, कैम स्कैनर, शीन क्वाई भी बैन कर दिया गया है. बायडू मैप, केवाई, डीयू बैटरी स्कैनर भी बैन हो गया है. बता दें कि सरकार ने इन चीनी एप्स पर आईटी एक्ट 2000 के तहत बैन लगाया था.

 

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों से चाइनीज एप की एक लिस्ट तैयार कर केंद्र सरकार से अपील की थी इनको बैन किया जाए या फिर लोगों को कहा जाए कि इनको तुरंत अपने मोबाइल से हटा दें. इसके पीछे दलील ये दी गई थी कि चीन भारतीय डेटा हैक कर सकता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close