BREAKING NEWSखेल

सुरेश रैना का का बड़ा खुलासा अगर इस खिलाड़ी को मिलता मौका तो भारत वर्ल्ड कप 2019 का विजेता रहता जाने कौन है वह खिलाड़ी ?

भारत वर्ल्ड कप 2019 का विजेता रहता जाने कौन है वह खिलाड़ी ?

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह चुके सुरेश रैना इन दिनों काफी सुर्खियों में बने हुए हैं। पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरैश रैना ने दावा करते हुए कहा कि टीम साल 2019 वर्ल्ड कप खिताब को अपने नाम कर सकती थी, लेकिन उसके लिए अंबाती रायडू को मौका मिला होता। विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया को 2019 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। 2019 में आईसीसी वर्ल्ड कप शुरू होने से पहले भारतीय टीम को खिताब के सबसे प्रबल दावेदारों में गिना जा रहा था, लेकिन टीम इंडिया सेमीफाइनल में हार गई।

सेमीफाइनल से पहले टीम इंडिया ने जिस तरह का प्रदर्शन किया, उससे लगा था कि टीम इस बार खिताब अपने नाम कर लेगी लेकिन ऐसा हो नहीं सका। उसे न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में करीबी हार झेलनी पड़ी, जिससे टीम इंडिया वर्ल्ड कप से बाहर हो गई। हाल में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले सीमित ओवरों के धुरंधर क्रिकेटर सुरेश रैना ने अब ऐसे क्रिकेटर का नाम बताया, जिसके होने से टीम इंडिया वर्ल्ड कप जीत सकती थी। रैना ने ‘क्रिकबज’ से कहा, ‘मैं चाहता था कि रायडू भारत के लिए नंबर-4 पर बल्लेबाजी करें। करीब डेढ़ साल से उन्होंने कड़ी मेहनत की और अच्छा प्रदर्शन किया था। हालांकि वह टीम में शामिल नहीं किए गए।

उन्होंने कहा, ‘2018 के दौरे का मैंने आनंद नहीं उठाया था, क्योंकि हालात कुछ ऐसे थे, जहां रायुडू फिटनेस टेस्ट में फेल हो गए। उन्हें यह बिलकुल अच्छा नहीं लगा कि वह फिटनेस टेस्ट पास नहीं कर सके। उनकी जगह मुझे टीम में चुना गया।। वर्ल्ड कप के दौरान टीम इंडिया को नंबर-4 के बल्लेबाज को लेकर काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। हालांकि टूर्नामेंट में ओपनरों का प्रदर्शन सराहनीय रहा। तब एमएसके प्रसाद की अगुआई वाली सेलेक्शन कमेटी ने रायडू को वर्ल्ड कप टीम में नहीं चुना और उनकी जगह विजय शंकर को टीम में शामिल किया था। इसे लेकर काफी विवाद भी हुआ।

इतना ही नहीं, रायडू ने सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा भी जाहिर किया था। गत 15 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले रैना ने कहा, ‘वह (रायुडू) नंबर-4 के लिए अच्छे बल्लेबाज थे। अगर वह वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा होते तो शायद हम खिताब अपने नाम कर लेते। वह जिस तरह से खेलते हैं, उस नंबर के लिए सर्वश्रेष्ठ विकल्प थे। चेन्नई में ट्रेनिंग कैंप में भी उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close