BREAKING NEWSLIFESTYLEअनतर्राष्ट्र्य खबरेंअन्य खबरेंखेलटेकतकनीकपरिणाम और प्रवेशपरिणाम/प्रवेश पत्रप्रवेश फॉर्मबॉलीवुड न्यूज़भारतसरकारी नौकरियांसरकारी भर्तियाँसरकारी योजनायेंसिलेबसस्वास्थ्य

electronic vehicles, the government will give land on 50% of the amount

इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए सरकार देगी 50% राशि राशि पर जमीन

Join for Job Update

इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए सरकार चार्जर स्टेशन की जमीन के लिए 50% कम दर पर करेगी जमीन आवंटित देखें पूरी न्यूज़ | 

 

ई – वाहन चार्जिंग स्टेशन हेतु इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है 50% दर पर आवंटित होगी जमीन |
इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है  वाहन चार्जिंग स्टेशन के लिए सरकार 50% कम दर पर जमीन आवंटित करेगी |
यह छूट पहले शुरुआती 500 आवेदकों को दी जाएगी |
नगरीय विकास विभाग ने मंगलवार को इसके आदेश जारी कर दिए हैं |
इस प्रक्रिया के तहत संबंधित इलाके के जो भी आरक्षित दर होगी उसका 50% दर से आवंटित किया जाएगा |
ऐसे सभी प्रस्ताव अक्षय ऊर्जा निगम की ओर से शहरी निकायों के माध्यम से भेजे जाएंगे विभाग ने सभी निकायों विकास प्राधिकरण एवं ट्रस्टों को तत्काल प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए हैं |
इसके पीछे बजट घोषणा का भी हवाला दिया है राजस्थान सोलर पॉलिसी में भी रियायती दर पर भूमि आवंटित के संबंध में प्रावधान किया गया है |

यह है प्रस्तावित

चार्जिंग स्टेशन इन फाइल स्ट्रक्चर के लिए जो उपकरण खरीदेंगे उनमें एक निर्धारित राशि पुनर्भरण करेंगे |
इसमें उन 100 लोगों को बड़ी राशि पुनर्भरण की जाएगी जो इस पॉलिसी के तहत चार्जिंग स्टेशन लगाएंगे |

अभी तक यह लाभ दिया गया था

पहली बार टाइम आफ डे व्यवस्था लागू की गई है यानी चार्जिंग स्टेशन पर रात में वाहन चार्ज करते हैं तो बिजली उपभोग दर में 15% छूट मिलेगी |
यह समय रात 11:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक रहेगा रात के अतिरिक्त बिजली होने के कारण ईओडी व्यवस्था लागू की गई चार्जिंग स्टेशन पर छेद पर प्रति यूनिट की दर बिजली मिलेगी |
Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

 

Rajasthan Top News  की लेटेस्ट अपडेट सबसे पहले पाने के लिए टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें-

Subscribe Now