खेल

धोनी रन आउट…… आज ही के दिन टूटा था विश्व कप जीतने का करोड़ों हिंदुस्तानियों का सपना

वर्ल्ड कप 2019 में आज ही के दिन सेमीफाइनल में भारत को न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) ने 18 रनों से हरा दिया था

  • 10 जुलाई: WC-2019 के सेमीफाइनल में हारा था भारत
  • पूर्व कप्तान एमएस धोनी के ‘रन आउट’ से टूटा था सपना

आज का दिन भारतीय क्रिकेट के लिए किसी बुरे सपने से कम नहीं है. ठीक एक साल पहले आज ही के दिन भारतीय टीम विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल मैच में न्यूजीलैंड के हाथों हार गई थी. इस हार के साथ ही भारत का विश्व कप का सफर थम गया था और करोड़ों हिंदुस्तानियों के सपने टूट गए थे. लेकिन ये ऐसा सेमीफाइनल मैच था जो विश्व कप के इतिहास में दर्ज हुआ.

मैनचेस्टर में खेले गए वर्ल्ड कप-2019 के पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने विराट ब्रिगेड को 18 रनों से मात दी थी. इसी के साथ भारत का तीसरी बार वर्ल्ड कप चैम्पियन बनने का सपना भी टूट गया था.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड की टीम ने 50 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर 239 रन बनाए थे. 240 रनों का छोटा टारगेट भी टीम इंडिया के लिए भारी पड़ा. वह 49.3 ओवरों में 221 रन पर ऑलआउट हो गई. भारत ने 92 रनों पर ही अपने छह विकेट खो दिए थे. यहां से रवींद्र जडेजा (77) और महेंद्र सिंह धोनी (50) ने सातवें विकेट के लिए 116 रनों की साझेदारी कर भारत को जीत के करीब पहुंचाया था.

ऐसा लग रहा था कि जडेजा और धोनी की जोड़ी भारत को फाइनल में पहुंचा देगी, तभी ट्रेंट बोल्ट ने मैच का रुख बदल दिया. उन्होंने 208 के कुल स्कोर पर जडेजा को कप्तान केन विलियम्सन के हाथों कैच कराया. पूर्व कप्तान धोनी क्रीज पर भारत की आखिरी उम्मीद थे. आखिरी दो ओवरों में भारत को 31 रनों की दरकार थी.

धोनी ने पहली गेंद पर छक्का मारा और दूसरी गेंद पर दो रन लेकर स्ट्राइक अपने पास रखना चाहा. वह दूसरा रन लेने दौड़े, लेकिन मार्टिन गप्टिल की डायरेक्ट हिट से पहले वह बल्ला क्रीज पर नहीं रख सके और यहीं भारत की उम्मीदें खत्म हो गईं. धोनी (50) की 72 गेंदों की पारी काम न आई. इसी के बाद से धोनी क्रिकेट से बाहर हैं, उन्होंने अब तक कोई मैच नहीं खेला है.

 

भारतीय टीम 221 रन पर ऑलआउट हो गई. इसी के साथ सेमीफाइनल में भारत को 18 रन से हार झेलनी पड़ी. विश्व कप में पांच शतक लगाने वाले रोहित शर्मा भी इस हार की वजह से अपने आंसुओं को छिपा नहीं पाए और 8 साल बाद विश्व कप जीतने का सपना एक बार फिर टूट गया.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close