अनतर्राष्ट्र्य खबरें

गुजरात और महाराष्ट्र से सटे होने के बावजूद भी आखिर कैसे दमन और दीव हैं कोरोना से मुक्त

यह जगह पर्यटकों के बीच भी बहुत लोकप्रिय है।

 दमन और दीव हैं कोरोना से मुक्त

केंद्र शासित प्रदेश दादर और नगर हवेली  के और दमन  दीव जिले कोरोना वायरस से पूरी तरह से मुक्तलों हैं। इन जि में कोरोना का अभी तक एक भी मामला सामने नहीं आया है। प्रशासन इसका सारा श्रेय लॉकडाउन के आदेशों का सख्ती से पालन और कोरोना योद्धाओं की मेहनत को दे रहा है।

प्रशासक प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि दमन और दीव में करीब 2.5 लाख औद्योगिक श्रमिक हैं और यह जगह  पर्यटकों के बीच भी बहुत लोकप्रिय है।

कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित दो राज्यों गुजरात के साथ सीमा लगने और महाराष्ट्र से नजदीक होने के बावजूद ये दोनों जिले अभी तक कोरोना मुक्त हैं क्योंकि लोगों ने लॉकडाउन के दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन किया। दादर और नगर हवेली में कोरोना के 19 मामले सामने आए हैं लेकिन दमन और दीव में अब तक कोई भी मामला नहीं मिला है।

उन्होंने कहा कि हम यह कामयाबी अपने कोरोना योद्धाओं की प्रतिबद्धता की वजह से हासिल कर पाए हैं। हम लोगों को 75 दिन के लॉकडाउन का पालन करने के लिए तैयार कर पाए। हालांकि, अधिकारी अभी भी पूरी तरह से सतर्क हैं क्योंकि केंद्र शासित प्रदेश गुजरात और महाराष्ट्र के काफी नजदीक है।

दादर और नगर हवेली के स्वास्थ्य विभाग आंकड़ों के अनुसार, करीब 17,965 सैंपलों की जांच की गई है जिनमें 12,310 दादर और नगर हवेली में, दमन में 4,723 और दीव में 1,112 सैंपलों की जांच शामिल है।

इन सैंपलों में से दादर और नगर हवेली से 19 पॉजिटिव मिले जबकि दमन और दीव में कोई पॉजिटिव नहीं मिला। हालांकि अभी 1039 सैंपलों का परिणाम आना बाकी है।

अधिकारी ने बताया कि दादर और नगर हवेली में 3444, दमन में 977 और दीव में 1605 लोगों को क्वारंटीन में रखा गया था। इन सभी लोगों ने निर्धारित अवधि गुजार ली है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अभी 2290 लोग क्वारंटीन में हैं।

जिन लोगों में लक्षण दिख रहे हैं उन लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री खंगाली जा रही है और उनका सैंपल एकत्र जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close