कोरोना वायरस

भारत में डरा रहा है कोरोना,देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 5 लाख पार

24 घंटे में सबसे अधिक 17 हजार से अधिक नये मामले

  • देश में पांच लाख से ज्यादा कोरोना मरीज
  • महाराष्ट्र कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित
  • संक्रमितों के बढ़ने की यही रफ्तार रही तो अगले एक हफ्ते में भारत दुनिया का तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमित देश हो जाएगा
  • अमेरिका में सबसे तेज 82 दिनों में 5 लाख संक्रमित मिले, भारत में 149 दिन में इतने मरीज मिले
  • देश में अब तक 2.97 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हुए, 5 लाख से ज्यादा मरीजों वाले देश रूस का रिकवरी रेट सबसे बेहतर

 

नई दिल्ली. देश में कोरोनावायरस मरीजों का आंकड़ा शुक्रवार को 5 लाख के पार हो गया। सिर्फ 6 दिन में ही कोरोना मरीज 4 लाख से बढ़कर 5 लाख हो गए। 20 जून को संक्रमितों की संख्या 4 लाख के पार हुई थी। देश में 30 जनवरी को कोरोना का पहला मामला सामने आया था। इसके 110 दिन बाद यानी 10 मई को यह संख्या बढ़कर एक लाख हुई।

फिर संक्रमण की रफ्तार में इतनी तेजी हो गई कि महज 15 दिनों में ही आंकड़ा 2 लाख के पार हो गया। इसके बाद संक्रमितों की संख्या 2 से बढ़कर 3 लाख होने में महज 10 लगे। 3 से 4 लाख मामले होने में 8 दिन और अब 4 से 5 लाख मामले होने में केवल 6 दिन लगे।

मतलब अब हर 6 दिन में एक लाख नए केस सामने आ रहे हैं। अगर यही रफ्तार रही तो अगले हफ्ते तक भारत, रूस को पीछे छोड़ते हुए दुनिया का तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमित देश हो जाएगा।

वहीं अब देश में कोरोना वायरस के कारण सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में एक दिन में पांच हजार से ज्यादा कोरोना वायरस के मरीजों की पुष्टि हुई है.

149 दिनों में 5 लाख केस सामने आए

राहत की बात यह है कि अन्य देशों के मुकाबले में भारत में कोरोना की रफ्तार काफी धीमी है। अमेरिका में सबसे तेज 82 दिनों में 5 लाख से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। भारत में इतने मामले होने में 149 दिन लगे। यह तब है जब भारत दुनिया का दूसरा सबसे ज्यादा आबादी वाला देश है।

24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 17 हजार 296 मामले

देश और दुनिया को अपने शिकंजे में कसने वाले इस Covid-19 का भयानक तांडव भारत में भी देखा जा रहा है. दुनियाभर में तेजी से पांव पसारते इस कोरोना ने भारत को अपना शिकार बना रखा है. भारत में कोरोना का तांडव किस स्तर पर है, आपको इसकी आकड़ों के मुताबिक पूरी जानकारी देते हैं. भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार की सुबह जो आंकड़े जारी किए वो कोरोना की सबसे बुरी स्थिति का सबसे भयानक नतीजा है. पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 17 हजार 296 नए केस सामने आए हैं.

झारखंड सरकार ने लॉकडाउन की अवधि 31 जुलाई तक बढ़ाई

झारखंड में 31 जुलाई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है. लॉकडाउन बढ़ाने की सूचना झारखंड सरकार की ओर से जारी कर दी गई है. दरअसल, झारखंड में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़े हैं. हालांकि यह संख्या अब भी कई राज्यों के मुकाबले बेहद कम है. लेकिन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अगुवाई वाली राज्य सरकार ने अतिरिक्त एहतियात बरतते हुए लॉकडाउन 31 जुलाई तक बढ़ाने का फैसला किया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close