स्वास्थ्य

अगर अधिक समय तक नहाते हो तो हो जाओ सावधान, ज्यादा नहाने से होगा ये नुकसान

जुलाई-अगस्त की उमस-भरी गर्मी में हर किसी के मन में कमोबेश यही ख्याल आता होगा कि ठंडे पानी से भरा एक टब लें और दिनभर उसी में लेटे रहें।

जुलाई-अगस्त की उमस-भरी गर्मी में हर किसी के मन में कमोबेश यही ख्याल आता होगा कि ठंडे पानी से भरा एक टब लें और दिनभर उसी में लेटे रहें।

हालांकि, ब्रिटेन की जानी-मानी त्वचा रोग विशेषज्ञ स्टेसी डिमेंटो ने विभिन्न अध्ययनों के आधार पर पानी में अधिक समय गुजारने से बचने की सलाह दी है।

उनकी मानें तो ज्यादा देर तक नहाने से न सिर्फ त्वचा की प्राकृतिक नमी छिनती है, बल्कि संक्रमण का शिकार होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

 

पानी में सीमित समय गुजारें-

-स्टेसी के मुताबिक दिनभर में दो से तीन बार ही स्नान करना चाहिए।

हर बार घड़ी देखकर अधिकतम 15 मिनट ही पानी के संपर्क में रहना चाहिए। उन्होंने बताया कि ज्यादा देर तक नहाने से शरीर में मौजूद प्राकृतिक तेल नष्ट होने लगते हैं।

इससे रूखी और बेजान त्वचा के साथ ही खुजली व संक्रमण की शिकायत सता सकती है।

 

वैक्सिंग के तुरंत बाद न नहाएं-

-क्या आप दाढ़ी बनाने या वैक्सिंग कराने के बाद सीधे नहाना पसंद करते हैं? अगर हां तो आप अनजाने में त्वचा संक्रमण को दावत दे रहे हैं। स्टेसी के अनुसार वैक्सिंग और शेविंग से त्वचा में मौजूद रोम छिद्र खुल जाते हैं।

ऐसे में नहाते समय कीटाणु इन रोम छिद्रों में प्रवेश कर कील-मुंहासे की समस्या को जन्म दे सकते हैं।

 

तेल सीधे पानी में न घोलें-

-एसेंशियल ऑयल (गंध तेल) अपनी दिलकश खुशबू के कारण तन-मन को सुकून पहुंचाने में कारगर हैं, लेकिन चूंकि ये पानी में नहीं घुलते इसलिए त्वचा को फायदा नहीं मिल पाता।

स्टेसी ने नर्म, मुलायम और चमकदार त्वचा हासिल करने के लिए तेल को जौ के आटे में घोलने के बाद पानी में मिलाने की नसीहत दी है।

 

मॉश्चराइजर लगाने में भलाई-

-पानी में लंबे समय तक रहने पर त्वचा रूखी और बेजान होना लाजिमी है।

व्यक्ति को खुजली और जलन की शिकायत भी सता सकती है।

ऐसे में नहाने के तुरंत बाद मॉश्चराइजर या नारियल-जैतून का तेल जरूर लगाएं।

तेल या मॉश्चराइजर लगाने से पहले पूरे शरीर को तौलिये से अच्छी तरह से सुखाना कतई न भूलें।

 

सर्दियों में ज्यादा गर्म पानी के इस्तेमाल से बचें-

-स्टेसी ने सर्दियों में यह सुनिश्चित करने पर जोर दिया है कि आप जिस पानी से नहा रहे हैं वो गुनगुना हो। दरअसल, ज्यादा गर्म पानी से स्नान करने पर त्वचा की बाहरी परत टूटने लगती है।

इससे प्राकृतिक तेल बाहर निकलने लगते हैं तो जीवाणुओं को अंदर प्रवेश करने का मौका मिल जाता है। नतीजतन व्यक्ति को रुखी-बेजान त्वचा के साथ खुजली व लाल चकत्ते पड़ने की शिकायत सता सकती है।

 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close