BREAKING NEWSस्वास्थ्य

कोरोनाकाल में आयुर्वेद की सलाह, जानिए शहद की सात बड़ी खूबियां

कई दिनों से खांसी आ रही है तो सोने से पहले गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पिएं, यह लो-ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल करेगा और चेहरे पर चमक लाएगा

शहद दिल, दिमाग और स्किन तीनों के लिए फायदेमंद, विशेषज्ञों के मुताबिक, यह कफ को पतला करके शरीर से बाहर निकालता है

मात्र एक चम्मच शहद से 64 कैलोरी मिलती है, इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण हैं और शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाता है

 

आयुर्वेद में शहद को एक औषधि माना गया है। कोरोना काल में आयुष मंत्रालय ने इसे बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ाने वाला बताया है। आयुर्वेद विशेषज्ञ कहते हैं, शहद कई तरह खनिज और विटामिन से भरपूर होता है। यह दिल, दिमाग और स्किन के लिए बहुत ही फायदेमंद है। इसे रोजाना इस्तेमाल करते हैं तो शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है और चेहरे पर निखार आता है। यह कई बीमारियों से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।

आयुर्वेद विशेषज्ञ  बता रहे हैं शहद की सात बड़ी खूबियां

खांसी से दिलाता है निजात
अगर आपकी खांसी कई दिनों से ठीक नहीं हो रही है तो शहद का इस्तेमाल करें। यह काफी असरकारक घरेलू दवा है। शहद में मौजूद एंटीबैक्टीरियल खूबी संक्रमण को बढ़ने से रोकती है। यह कफ को पतला करती है, जिससे वह आसानी से बाहर निकल जाता है। रात में सोने से पहले हल्के गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से खांसी को आराम मिलता है।

क्या आपको चक्कर भी आते हैं, डाइट में शहद शामिल करें
आयुर्वेद विशेषज्ञ के मुताबिक, शहद रेग्युलर लेते हैं तो सर्कुलेटरी सिस्टम बेहतर होता है। यह एनर्जेटिक और फुर्तीला भी बनाए रखता है। अगर आपको लो-ब्लड प्रेशर की शिकायत है और आप नीचे बैठे-बैठे अचानक उठने की कोशिश करते हैं तो आपको चक्कर आ जाते हैं।

लो-ब्लड प्रेशर का मतलब दिमाग में ऑक्सीजन का कम मात्रा में पहुंचना है। इसी तरह से अगर आप अपना सिर नीचे करते हैं और आपको चक्कर आते हैं तो इसका मतलब है कि आपको हाई- ब्लड प्रेशर की समस्या है। शहद का सेवन शरीर के ऐसे असंतुलन को दूर करता है।

पाचन सुधारता है और स्किन पर चमक लाता है
आयुर्वेद विशेषज्ञ के मुताबिक, आमातौर पर लोग स्किन पर चमक लाने, पाचन ठीक रखने, इम्युनिटी पॉवर बढ़ाने, और वजन कम करने के लिए शहद का उपयोग करते हैं। इसके अलावा शहद में एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जिसकी वजह से घाव को भरने में या चोट से जल्दी आराम दिलाने में भी यह कारगर है।

खून में हीमोग्लोबिन बढ़ाता है शहद
शहद और गुनगुने पानी का मिश्रण खून में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाता है, जिससे एनीमिया या खून की कमी में फायदा होता है। इससे खून में लाल रक्त कोशिकाओं (आरबीसी) की संख्या में इजाफा होता है।

शहद रक्त की ऑक्सीजन ले जाने की क्षमता को बढ़ाते हुए सांस फूलने जैसी बीमारी को भी कम करता है। इसके साथ ही इसके सेवन से दिमाग को भी पर्याप्त आक्सीजन मिलती है, जिससे दिमाग सेहतमंद रहता है।

पोषक तत्वों का पिटारा
शहद में मुख्य रूप से फ्रक्टोज पाया जाता है। इसके अलावा इसमें कार्बोहाइड्रेट, शहद जरूरी पोषक तत्वों, खनिजों और विटामिन का भंडार है। साथ ही इसमें विटामिन बी-6, विटामिन सी, राइबोफ्लेविन और अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं। एक चम्मच (21 ग्राम) शहद में लगभग 64 कैलोरी और 17 ग्राम शुगर (फ्रक्टोज, ग्लूकोज, सुक्रोज एवं माल्टोज) होता है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close