राज्य
Trending

5 किलो गेहूं निशुल्क तो 5 किलो की चुकानी पड़ेगी कीमत- राज्य सरकार

5 किलो गेहूं निशुल्क तो 5 किलो की चुकानी पड़ेगी कीमत- राज्य सरकार

  • राज्य सरकार का आदेश 5 किलो गेंहू की चुकानी पड़ेगी कीमत
  • कोरोना काल मे गरीबो पर मार
  • ग्रामीण विकास मंत्रालय से 8549.57 करोड रुपए मिले

कोरोना काल में प्रदेश के करीब 4.5 करोड़ गरीब व्यक्तियों को 5 किलो गेहूं निशुल्क दिया जाएगा तो वहीं 5 किलो गेहूं गरीब  लोगों को 1 से 2 रूपये के किलो के हिसाब से देने होंगे.

सरकार के इस फैसले से लोगों में असमंजस है सरकार एक तरफ कोरोनाकाल को देखते हुए निशुल्क अनाज दे रही है वही दूसरी तरफ सामान्य परिस्थितियां मानकर मूल्य वसूला जा रहा है प्रदेश में हर महीने खाद्य सुरक्षा सूची में शामिल करीब 4.5 करोड़ लोगों को सस्ती दर पर गेहूं दिया जा रहा है.

इनमें बीपीएल अंत्योदय परिवारों को 1 रुपये व अन्य श्रेणी वाले परिवारों को 2  रुपए प्रति किलो के हिसाब से प्रति व्यक्ति 5 किलो गेहूं दिया जाता है अप्रैल से जून तक गेहूं निशुल्क दिया गया इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में 5 किलो अतिरिक्त दिया गया इस प्रकार 3 माह 10 किलो निशुल्क गेहूं खाद्य सुरक्षा में शामिल गरीबों को मिला.

अब यह स्थिति

हाल ही पीएम ने गरीब कल्याण योजना को अक्टूबर-नवंबर तक बढ़ा दिया और इस योजना में अतिरिक्त 5 किलो गेहूं निशुल्क दिया जाएगा लेकिन एनएफएसए के तहत दिया जा रहा है गेहूं पहले की तरह एक से 2 रुपये प्रति किलो के हिसाब से दिया जाएगा ऐसे में अब 10 किलो गेहूं में से 5 किलो के पैसे और 5 गेहूं किलो निशुल्क मिलेगा।

राज्य सरकार एनएफएसए का गेहूं निशुल्क दे :- पूनिया

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा है कि महामारी काल में राज्य सरकार बीपीएल एनएफएसए के तहत दिए जाने वाला राशन निशुल्क उपलब्ध कराएं पूनिया ने गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि केंद्र सरकार गरीब जनता जरूरतमंद एवं प्रवासियों को निशुल्क अनाज उपलब्ध करवा रही है वहीं राज्य सरकार बीपीएल एनएफएसए के अंतर्गत दिए जाने वाले राशन का एक व दो रुपए किलो के हिसाब से ले रही है उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार को ग्रामीण विकास मंत्रालय से 8549.57 करोड रुपए मिले हैं

बनाई 5 सदस्य समिति

पुनिया ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत योजनाओं के प्रचार-प्रसार व क्रियान्वयन के लिए 5 सदस्य समिति का गठन किया है उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ की अध्यक्षता में गठित समिति में सांसद रामचरण बौहरा, पूर्व मंत्री सुशील कटारा, विधायक अनिता भदेल, महेंद्र बोहरा सदस्य हैं

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close