BREAKING NEWSशिक्षा
Trending

खाटू श्याम मंदिर दर्शन के लिए ऐसे होगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Online registration will be done for Khatu Shyam temple visit

खाटू श्याम मंदिर दर्शन के लिए ऐसे होगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

8 माह भाग खुला खाटू श्याम दर्शन को मिलेंगे सिर्फ 20 सेकंड

 

8 महीने बाद बुधवार को खाटू श्याम मंदिर दर्शनों के लिए खोल दिया गया मगर यहां ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के आधार
पर ही दर्शन होंगे हालांकि स्थानीय लोग आधार कार्ड दिखाकर भी दर्शन  कर सकेंगे हर श्रद्धालु 20 सेकंड दर्शन कर सकेंगे

ऐसे करा सकेंगे ऑनलाइन बुकिंग –

11 नवम्बर से खुल गया है खाटू धाम , ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से ही होंगे दर्शन

 

कोरोना महामारी के बीच बंद खाटू धाम का प्रसिद्ध मंदिर 11 नवम्बर से खुल रहा है | जिला कलेक्टर की अगुवाई में

सोमवार 9 नवम्बर को यह फैसला लिया गया है | दर्शन के इच्छुक भक्तो को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा |

ऑनलाइन पंजीकरण http://shrishyamdarshan.in/ पर होगा | 19 मार्च से अभी तक मंदिर बंद था और भक्त अपने

प्यारे आराध्य के दर्शन के लिए तरस रहे थे | जिला कलेक्टर अविचल चतुर्वेदी जी ने बताया की 10 साल से कम और 60

वर्ष से ज्यादा उम्र के भक्तो को दर्शन करने पर रोक रहेगी | साथ ही वे व्यक्ति जिनके लक्ष्ण कोरोना से मिलते जुलते हो

उन्हें भी दर्शन नही करवाए जायेंगे | यह सब फैसला जन हित में लिया गया है जिससे की कोरोना का संक्रमण ना हो |

दर्शन करने आने वाले भक्तो को मास्क पहनना अनिवार्य होगा और कोविद गाइडलाइन्स का पालन करना पड़ेगा | मंदिर

कमिटी इसके लिए जगह जगह निर्देश लगा कर रखेगी |

कैसे करे रजिस्ट्रेशन –

दर्शन की बुकिंग कराने के लिए आप http://shrishyamdarshan.in/ पर क्लिक करे और फिर क्लिक फॉर दर्शन बुकिंग पर क्लिक करे | इसके बाद जरुरी फॉर्म को भरे और अपनी दर्शन तारीख और समय अवधि चुने | आपके दर्शन कन्फर्म होने के बाद आपको कन्फर्मेशन मेसेज प्राप्त हो जायेगा और बुकिंग id प्राप्त हो जाएगी |

श्रद्धालुओं को मंदिर की वेबसाइट http://www.khatushyam.in पर ऑनलाइन बुकिंग का लिंक मिलेगा इसमें उम्र के
अनुसार रजिस्ट्रेशन होगा 10 साल से कम और 60 साल से ज्यादा के भक्तों का रजिस्ट्रेशन नहीं हो पाएगा |

ऑनलाइन बूकिंग रजिस्ट्रेशन

Click Here

कैन्सल बूकिंग

Click Here

दर्शंनार्थियो के लिए निम्न बातो का ध्यान रखना अनिवार्य होगा – 

  • श्री श्याम मंदिर दिनांक 11 नवम्बर २०२० से आम दर्शनार्थियों हेतू दर्शन के लिए फिर से खोला जायेगा ! गृह मंत्रालय द्वारा जारी कोविड-१९ के दिशानिर्देश के अनुसार जिला प्रशासन और स्थानीय पुलिस के साथ दर्शन की व्यवस्था की जाएगी!
  • सभी भक्तो के दर्शन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करना अनिवार्य है ! बिना पंजीकरण के दर्शन लाइन में प्रवेश नही मिलेगा !
  • रविवार, एकादशी, द्वादशी को आम दर्शनार्थियों के लिए दर्शनों की व्यवस्था बंद रहेगी !कृपया इन उक्त दिवसों में बाबा श्याम के दर्शन श्री श्याम मंदिर कमेटी की अधिकृत वेबसाइट एवं यूट्यूब चैनल पर कर सकेंगे !
  • ऑनलाइन दर्शन पंजीकरण प्रयोगात्मक रूप से 30 नवंबर 2020 तक उपलब्ध होगा! (दर्शन की यह प्रणाली पूर्ण रूप से स्थाई है और भक्तों की सुविधा अर्थ सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बिना किसी अग्रिम सूचना के आधार पर परिवर्तन किए जा सकते हैं!)
  • आप हमारी आधिकारिक वेबसाइट www.shrishyamdarshan.in पर दर्शन के लिए पंजीकरण कर सकते हैं!
  • दर्शन का समय निम्नानुसार होगा
    प्रातः 8:00 से 9:00 तक / प्रातः 10:00 से 12:00 तक
    शाम 4:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक / रात्रि 8:00 बजे से रात्रि 9:30 बजे तक
    नोट: प्रारंभिक चरण में प्रयोगात्मक रूप से श्री श्याम मंदिर कमेटी एवं प्रशासन द्वारा भक्तों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सीमित समय में सीमित संख्या में भक्तों को दर्शन व्यवस्था की गई है!
  • प्रत्येक भक्तों को मास्क अनिवार्य रूप से पहनना होगा वह सामाजिक दूरी बनाए रखना होगा दर्शन करने की लाइन बाजार या दुकानों में वह हर जगह सामाजिक दूरी बनाए रखें!
  • यदि कोई जुकाम खांसी या बुखार से पीड़ित है तो वह मंदिर परिसर में प्रवेश नहीं करेगा!
  • श्रद्धालुओं को अपने जूते चप्पल गाड़ी में अथवा रुकने के स्थान पर उतार कराने होंगे!
  • मंदिर परिसर में प्रवेश से पूर्व हाथ पैर साबुन से धोकर आए!
  • प्रतीक्षा स्थल पर प्रवेश से पूर्व सामाजिक दूरी का पालन करना आवश्यक है!
  • मंदिर परिसर में घंटी बजाना प्रसाद चढ़ाना ध्वजा फूल माला इत्र लाना सख्त मना है!
  • मंदिर परिसर में ग्रिल दरवाजे अथवा अन्य किसी भी वस्तु को छूना सख्त मना है!
  • मंदिर परिसर में रुकना सख्त मना है!
  • दर्शन के पश्चात तुरंत निकास की ओर प्रस्थान करें!
  • सभी भक्तों से अनुरोध है कि इस महामारी के समय में मंदिर कमेटी से जिला प्रशासन का पूर्ण सहयोग करें!

10 साल से कम आयु के बच्चों गर्भवती महिलाओं अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों और 60 साल से अधिक आयु के लोगों को यात्रा नहीं करने की सलाह दी गई है हालात सामान्य होने के बाद इस परामर्श की समीक्षा की जाएगी!

विशेष: यदि कोई व्यक्ति कोविड-19 संदिग्ध मिले तो उसकी सूचना तुरंत जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग को देनी होगी!

ध्यान रखने योग्य बाते :- 

* दर्शन का समय सुबह 8 से 9 और फिर सुबह 10 से 12 | और शाम को 4 से 6 बजे और फिर 8 से 9:30 बजे तक |

* शुक्ल एकादशी और द्वादशी को मंदिर दर्शनार्थ बंद रहेगा |

* विशेष उत्सव या किसी भी अन्य कारण वश मंदिर कमिटी दर्शन व्यवस्था को बंद कर सकती है जिसका अधिकार मंदिर कमिटी के पास सुरक्षित रहेगा |

* जिन्होंने जिस दिन और समय के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है उसी दिन और उसी समय पर वे दर्शन कर पायेंगे |

* मास्क पहन कर और सोशल distancing का ध्यान रखकर ही दर्शन करने होंगे

* बीमार भक्त दर्शन करने नही आये |

* जो भक्त दर्शन करना चाहते है वे ही रजिस्ट्रेशन करवाए | एक दिन में सिमित संख्या में ही रजिस्ट्रेशन किये जायेंगे | टाइम पास के लिए किये गये रजिस्ट्रेशन से आप अन्य श्याम भक्तो के नंबर कम कर सकते है | ऐसा पाप ना करे |

* मंदिर परिसर में किसी भी चीज को ना छुए , ना ही घंटी बजाये | मंदिर में फिलहाल किसी भी तरह का प्रसाद ना चढ़ाये ना फूल माला और ना ही इत्र |

* मंदिर परिसर के पास चप्पल , जूते लाना भी सक्त मना है |

* अपने साथ सैनिटाइजर जरुर लाये और समय समय पर हाथो को साफ़ करते रहे |

* मंदिर परिसर में कम से कम बात करे | और दर्शन के तुरंत बाद मंदिर परिसर से निकल जाए जिससे की अन्य भक्तो को दर्शन में समय ना लगे |

* खाटू श्याम जी के स्थानीय लोग आधार कार्ड से दर्शन कर पाएंगे |

* अभी फिलहाल मंदिर पुरे दिन में 6.30 घंटे ही गैप के साथ खुलेगा |

* एक दिन में 2000 भक्त कर सकेंगे दर्शन | यह पुरे दिन में चार चरण में होंगे जिसमे हर चरण में 500 भक्तो को दर्शन हो पाएंगे |

Please Note :– बाबा श्याम के दरबार खाटू धाम में आने से पहले रजिस्ट्रेशन जरुर करा ले | बिना रजिस्ट्रेशन दर्शन के लिए प्रवेश नही करवाया जायेगा |

सभी भक्त इस आपातकालीन समय का ध्यान रखते हुए और अपने और दुसरे के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए मंदिर कमिटी , पुलिस प्रशासन का सहयोग करे जिससे की व्यव्यस्था में कोई कमी ना आये |

बाबा श्याम की कृपा से आप सभी स्वस्थ रहे , निरोगी रहे | जय श्री श्याम |

You May Also Like Below Links Regards KhatuShyamji

11 November 2020 से खुल रहा श्याम मंदिर , दर्शन के लिए पहले करे रजिस्ट्रेशन

Khatu Shyam ji is a Famous God of the current time (Kaliyuga). Many years ago Lord Krishna gave him the boon to be worshiped at the current time when Veer Barbareek sacrificed his head in the way of religion. Lord Krishna delighted with Barbareek’s great sacrifice (Sheesh Daan), granted him the boon that when Kaliyug (Present times evil times) come downs, he would be worshiped by the name of Shyam in his form. he is also called Sheesh Ke Daani (Donor of head) in his Devotees. He fulfills all wishes of his pilgrims who have a true heart. Shyam baba is also known as Haare ka Sahara (Helper of Losers) This khatushyam.in the website is based on ScandPuran written by Maharshi Ved Vyas. In this epic Mother and father are mentioned as Maa Morvi and Ghatochkach. Pandav Bheem is considered the Grand Father of Veer Barbreeka.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close