अनतर्राष्ट्र्य खबरें

कोरोना काल में आ गया पैसे का संकट तो इन 5 तरीकों से करें इंतजाम

कोरोना वायरस संकट के दौर में अगर आपको पैसों की जरुरत पड़ जाए तो परेशान होने की जरूरत नहीं है.

नई दिल्ली. कोरोना वायरस संकट (Coronavirus Crisis) के दौर में सभी को वित्तीय नुकसान उठाना पड़ रहा है. कहीं लोगों को नौकरी से निकाला जा रहा है तो कहीं उनकी सैलरी में कटौती की जा रही है. कंपनियों के बंद होने से लोगों की इनकम खत्म हो गई है. कोरोना लॉकडाउन का लोगों पर वित्तीय मार पड़ी है. लोगों ने अपने खर्चे कम कर दिए हैं. लेकिन कुछ खर्चे ऐसे होते हैं जिन्हें रोका नहीं जा सकता है. कोरोना संकट में लोगों को राहत देने के लिए सरकार ने लोन, इंश्योरेंस, निवेश, इनकम टैक्स रिटर्न आदि की डेडलाइन आगे बढ़ा दी है. फिर भी अगर आपको पैसों की जरूरत पड़ जाए तो परेशान होने की जरूरत नहीं है. कुछ ऐसे तरीके हैं जिनसे आप पैसों की व्यवस्था कर सकते हैं.

1. ले सकते हैं गोल्ड लोन

भारत में हर घर में सोना (Gold0 जरूर होता है. कोरोना काल में अगर पैसों की दिक्कत है तो आप गोल्ड लोन (Gold Loan) ले सकते हैं. जब फिर से नौकरी शुरू कर पाएं या पैसे की दिक्कत खत्म हो जाए तो आप गोल्ड लोन के पैसे चुकाकर अपना सोना वापस पा सकते हैं.

2. PF से निकाल सकते हैं पैसा

मोदी सरकार ने कोरोना काल में लोगों को प्रोविडेंट फंड (PF) से पैसा निकालने की छूट दी है. अगर आपको पैसों संकट आ गया है तो आप पीएफ खाते से पैसे निकाल सकते हैं. कोविड-19 के तहत आप पीएफ खाते से 75 फीसदी तक पैसा निकाल सकते हैं.

3. पर्सनल लोन लेने पर विचार

कई बड़े बैंक इस समय बेहद कम ब्याज दर पर कोविड-19 पर्सनल लोन ऑफर कर रहे हैं. एसबीआई, बैंक ऑफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, महाराष्ट्र बैंक और बैंक ऑफ इंडिया की ओर से कोविड-19 पर्सनल लोन दिए जा रहे हैं. कोरोना संकट से उबरने के लिए ये लोन ऑफर किए जा रहे हैं. इसकी पहली खासियत यह है कि आम पर्सनल लोन के मुकाबले इस पर ब्याज कम लगता है. आमतौर पर पर्सनल लोन पर बैंक 8.75 फीसदी से लेकर 25 फीसदी तक ब्याज दर वसूलते हैं. लेकिन कोविड पर्सनल लोन पर ब्याज दर 7.20 फीसदी से 10.25 फीसदी के बीच है.

4. FD पर ओवरड्राफ्ट

अगर आपको पैसे की जरूरत पड़ गई है तो आप अपने फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) पर ओवरड्राफ्ट ले सकते हैं. देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई (SBI) अपने ग्राहकों को ये सुविधा देती है. BI की वेबसाइट के मुताबिक, पर्सनल अकाउंट वाले ग्राहक, जिनकी FD व्यक्तिगत नाम से है, वो ऑनलाइन इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं. ज्वाइंट अकाउंट वाले ग्राहक को यह सुविधा ब्रांच में ही मिलेगी.

5. इंश्योरेंस पॉलिसी पर लोन

इंश्योरेंस पॉलिसी में मैच्योरिटी पर रिटर्न के अलावा पॉलिसीधारकों को इंश्योरेंस पॉलिसी के एवज में लोन सुविदा मिलती है. अगर आपके पास पहले से कोई इंश्योरेंस पॉलिसी मौजूद हो तो इसकी एवज में आपको मिल सकता है. इसके लिए आवेदन आसाना होता है और यह जल्दी भी मिल जाते हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close