कोरोना वायरसटॉप न्यूज़
Trending

आज प्रधानमंत्री मोदी का 4 बजे देश के नाम सम्बोधन, सम्बोधन के कई मायने कोरोना,या चीन

आज प्रधानमंत्री मोदी का 4 बजे देश के नाम सम्बोधन, आज के सम्बोधन के कई मायने

  • प्रधानमंत्री मोदी का देश के नाम सम्बोधन

  • 4 बजे मोदी का सम्बोधन 

  • कोरोना की बढ़ती रफ्तार 

  • चीन पर वर्चुअल स्ट्राइक पर हो सकती है बातचीत 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश के नाम अपना संबोधन देंगे, शाम चार बजे ये संबोधन होगा. देश में कोरोना वायरस के मामलों की बढ़ती रफ्तार और चीन के साथ जारी विवाद के बीच ये संबोधन काफी अहम है.

देश में कोरोना वायरस के मामलों की तेज होती रफ्तार और लद्दाख में चीन के साथ जारी विवाद के बीच आज एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा सोमवार रात को इस बात की सूचना दी गई, जिसके अनुसार मंगलवार की शाम 4 बजे प्रधानमंत्री का संबोधन होगा. अब हर किसी की नज़र इसी पर है कि पीएम अपने संबोधन में क्या संदेश देंगे. पीएम मोदी इससे पहले भी कोरोना संकट के दौरान देश को संबोधित कर चुके हैं.

कोरोना की बढ़ती रफ्तार, अनलॉक 2 पर सलाह?

देश में कोरोना वायरस के मामलों का आंकड़ा पांच लाख पार कर चुका है और तेज़ी से 6 लाख की ओर भी बढ़ रहा है. इस बीच सोमवार को ही केंद्र सरकार ने अनलॉक 2 के निर्देश भी जारी किए हैं, जो कि एक जुलाई से लागू होंगे. इन निर्देशों में कुछ और छूट दी गई हैं. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को क्या अनलॉक में सावधानी और कोरोना को लेकर सचेत होने की जानकारी देंगे, इस पर नज़र बनी रहेगी.

लद्दाख में चीन के साथ जारी है विवाद

आपको बता दें कि मई से लद्दाख में चीन के साथ जारी विवाद अभी तक थमा नहीं है. 15 जून की झड़प में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए, जिसके बाद मामला और भी गर्मा गया. अब आज एक बार दोनों देशों की सेनाएं आपस में बात करेंगी.

चीनी सेना PLA अभी तक LAC से पीछे नहीं हटी है, जबकि भारत इस बात पर अड़ा हुआ है कि अप्रैल से पहले की स्थिति लागू की जाए. इस बीच चीन के खतरे को देखते हुए बॉर्डर पर जवानों की संख्या बढ़ गई है, वायुसेना भी पूरी तरह से एक्टिव है. ऐसे में इस पर नजर बनी रहेगी कि क्या प्रधानमंत्री चीन के मसले पर कुछ खास कहेंगे.

यह भी पढे :- भारत सरकार का बहुत बड़ा फैसला, भारत मे चीनी एप्प्स बैन

चीन पर हुई वर्चुअल स्ट्राइक

चीन को लेकर देशभर में गुस्सा पनप रहा है और लोग चीनी सामान के बहिष्कार की बात कर रहे हैं ताकि चीन को आर्थिक चोट पहुंचाई जा सके. इस बीच सोमवार को केंद्र सरकार ने टिकटॉक समेत चीन की 59 मोबाइल ऐप्स को भारत में बैन कर दिया.

इन ऐप को बैन करने के पीछे सुरक्षा कारण बताया गया, क्योंकि आरोप था कि ये ऐप्स भारत का डाटा चोरी कर रही थीं. हालांकि, इसको लेकर काफी वक्त से अनुमान लगाया जा रहा था और मांग की जा रही थी. इस बीच चीन के साथ जारी विवाद के बीच सरकार ने गर्म लोहे पर हथौड़ा मार ही दिया.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close